« 1 2 3 4 5 6 »

ਪਜਾਬੀ NRI ਦੁਲਹੇ ਨੇ ਦਹੇਜ ਲਈ ਕੁ੍ਟ ਖਾਈ

ਪਜਾਬੀ NRI ਦੁਲਹੇ ਨੇ ਦਹੇਜ ਲਈ ਕੁ੍ਟ ਖਾਈ
An NRI Groom Dr. Gurpreet Singh of Philadelphia, USA, got arrested on compaint by bride’s parents for demanding Rs.50 lac (approx USD 1,25,000) dowry, before tying a wedding knot on the occasion. Continue reading “ਪਜਾਬੀ NRI ਦੁਲਹੇ ਨੇ ਦਹੇਜ ਲਈ ਕੁ੍ਟ ਖਾਈ”

My Poem : Inner Peace

This poem, I am writing straight on blog first. Usually, I write poetry in my paper back dairy first. Poetry is a form of transcendental communication with God. I am not trying to impress anybody with “jugulary of vocabulary”. I just document the prose to grasp the message and remind my worldly mind of the presence of supreme lord.
Oct. 25th, 2007
“Inner Peace”

Take a slice off time,
not to bother a dime,

away from the lust of fleshy affair,
far from the amuse of
Continue reading “My Poem : Inner Peace”

Stem Cells From Body Fat Used To Grow New Nerves

Stem Cells From Patient’s Fat Used To Grow New Nerves

Stem cells from a patient’s fat may be used to create new nerves that can repair severed peripheral nerves (nerves outside the spinal cord), say scientists from Manchester University, England. The researchers say this route for creating new nerves could be part of medical practice by the year 2011.

The scientists said their aim is to put the new Continue reading “Stem Cells From Body Fat Used To Grow New Nerves”

Wise Man And Mad Man

There were three men sitting in open. Two wise men and one moorkha (the mad man). One of the wise men said, “look! how beautiful the day is”. The second man agreed and shared the joy. But the moorkha got furious. He thought these people have made a lobby against him and he should oppose their views with his full strength.
Wise Man And Mad Man
He stands abruptly and starts calling sunny day a “dark night”. Both the wise men thought, they should realise truth to moorkha and Continue reading “Wise Man And Mad Man”

जीवन में कभी कुछ गलत किया हो

हरि क्रिष्णा

किस कारण मन गलानि अनुभव करता है?
जीवन के पथ पर् हम कई उच्चाईयों और निचाईयों के पथिक बनते है, यदि तुम्हे कभी लगे कि कुछ गलत किया है तो गलानि मत अनुभव करना, हाँ भविष्य में उस कर्म को ना दोहराओ, बस ईतना धयान रखो। यहां संसार में कोई मनुश्य ऐस नही है, जो कभी पतित ना हुआ हो, कोई जीवित मनुश्य ऐस नही है जिसमें काम, क्रोध, लल्साह् न हो | केवल एक बात धयान में रखो कि चाहे तुम किसी भी हालत में हो, किसी भी स्थिति में हो, श्री क्रिष्ण तुम्हे स्विकार करते हैं” तुमने केवल आश्र्य् की प्रार्थन करनी है।
!! जेय श्री क्रिष्ण !!

Jivan ke path par hum kai uchchaee or nichaee ke pathik bantey hai, Yadi tumhe kabhi lagey ki kuch galat kiya hai to glani mat anubav karna hann bhavishaya mein us karama ko na dohraoo bas itna dhayan rakho. yahan sansaar mein koi manushya aisa nahi hai jo kabhi patiti na hua ho. Koi jivit manushya aisa nahi hai jisme kaam, Krodha, lalsah na ho. Remmeber one thing “in any form, in any situation you are acceptable to Shiri krishna.” just ask for his mercy.
Jai Shiri Krishna…
.
.

A letter to krishna and Shri Krishno Vach:

Krishna’s Sevak
Write a Letter to Lord Krishna
CC : srimati RadhaRani
BCC : All Devotees

Hey Hamarey Murli Manahor . Pyarrey Gopala

Hey Krishna ,Hey Merey Pyarrey sey Kahna , Give me power and rememberance so that I never forget you for a single momemt. Give me your “Bhakti”. Give me love for you so that I can serve you. Please give me that much intelligence so that I can just understand you and devotional service for you. I don’t want to be post graduate in Master of Science. I want to to complete my PHd in Krishna Couciousness.
Being Human , I am selfish and have few desires Please fullfill those following :

>Give me sweet voice so that I can preach your teachings and sing your Bhajans.
>Give me that talant so that i can dance for you.
>Give me knoweldge and uderstaning of your teachings so that I can distribute your teachings.
>Give me food that i can ofer you and eat your rememnants.
>Give me rememberance so that I can remember you everytime.
>Give me love for you so that I can serve you for ever.
>Give me devotion so that every moment of my life will be devoted for you.

Mohey Pappi Pardhan
(Senior Sinner among all)
Merey Prannath aur mein unki ardhangni

Hari Bol!!!
तू प्यार का सागर है
तू प्यार का सागर है
तेरी एक बूँध के प्यासे हम
तेरी एक बूँध के प्यासे हम
लौटज़ो दिया तूने Continue reading “A letter to krishna and Shri Krishno Vach:”

पीजी लड़कियों के बाथरूम में कैमरे से नजर

पीजी के बाथरूम में कैमरे की नजर
भास्कर न्यूज
Friday, August 31, 2007 05:31 [IST]

spy camera in girls bathroomचंडीगढ़: सेक्टर- ३८ (36) की आलीशान कोठी नंबर-३५२७। इसमें कई दिन से चल रहा था लड़कियों का पीजी और इसके बाथरूम में लगा था क्लोज सर्किट टेलीविजन (सीसीटीवी) कैमरा। कैमरे को थर्माकोल से ऐसे छिपाया गया था कि किसी की नजर न पड़े।

पीजी में रह रही थी दो लड़कियां :
पीयू में फ्रेंच एंड इंग्लिश का कोर्स करने वाली दो लड़कियां २८ अगस्त से इस पीजी में रह रही थीं। एक मोगा (पंजाब) के बागा पुराना की रहने वाली है तो दूसरी कोटकपूरा की। दोपहर में जब एक लड़की बाथरूम में नहाने गई तो उसने शावर के ऊपर छत पर कैमरा लगा पाया। उसने अपने परिजनों को घर से बुला लिया। परिजनों की मौजूदगी में लड़की ने थाना-३९ में फोन कर जानकारी दी।

पुलिस ने कोठी की तीसरी मंजिल में रहने वाली पीजी युवतियों का बाथरूम चेक किया, तो वहां सीसीटीवी कैमरा लगा पाया। कैमरा चेक किया तो वह ऑन था। पुलिस ने कैमरे को कब्जे में लिया और लीड के जरिए उस टीवी तक पहुंची जहां तस्वीरें रिले होती थी। पुलिस ने टीवी को भी कब्जे में ले लिया। पुलिस पीजी संचालक रमनीक शर्मा, से.-१५ के बिजली मकैनिक रूपिंदर, रमनीक के कजन मुनीष को दबोचकर थाने ले आई।

फोन पर बयान के आधार पर मामला दर्ज :
थाने में लड़की के परिजन दबाव के चलते शिकायत देने से कतराने लगे। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लड़की के फोन पर दिए बयानों के आधार पर कोठी मालिक रमनीक शर्मा पर मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस मुनीष और रूपिंदर से पूछताछ कर रही थी। दोनों को गिरफ्तार नहीं किया गया।

पीजी की जानकारी, पुलिस के पास नहीं!
कोठी नंबर-3527 में पीजी चल रहा था, पर इसकी जानकारी पुलिस फाइल से मिसिंग है। पुलिस यह स्पष्ट करने से कतरा रही है कि डीसी के आदेशों के तहत पुलिस में इस पीजी की जानकारी दी गई थी या नहीं?

Indian doctor develops an enzyme HIV cure

Bangalore: Dr Indrani Sarkar has has every reason to be excited. Her PhD thesis, which started in 2002 at the Max Planck Institute in Dresden, Germany, has thrown open the doors for developing enzymes that can destroy the dreaded Human Immuno-deficiency Virus or HIV within infected cells permanently.

Indrani and a team of scientists have developed an enzyme called Tre. Tre is a custom enzyme capable of detecting, recognising and destroying HIV, much like a pair of molecular scissors.

Continue reading “Indian doctor develops an enzyme HIV cure”